25 जनवरी 2011

कोटि-कोटि नमन तुझे है.....


                   कोटि-कोटि नमन तुझे है......





हे स्वर साधक......सूर सम्राट.......सरस्वती भक्त
तुझे विश्व की विनम्र श्रद्धांजलि.........................
तुझे शत-शत नमन करते हैं हम......................
तुझे ह्रदय में बिठा-रखेंगे हम...........................

3 टिप्‍पणियां:

शब्दकार-डॉo कुमारेन्द्र सिंह सेंगर ने कहा…

अभी तक की सबसे मधुर प्रस्तुतियों में, बधाई एवं आभार शब्दकार को समृद्ध बनाने हेतु.

शालिनी कौशिक ने कहा…

bheemsen joshi ji ko apne sath sath meri shraddhanjali bhi de deejiyega.bahut bhavpoorn chitrmay prastuti

शिखा कौशिक ने कहा…

aise mahan klakar ko hardik shradhanjli ...